NPCI (एन पी सी आई) क्या है? Full फॉर्म पूरी जानकारी हिन्दी में

NPCI (एन पी सी आई) क्या है? Full फॉर्म पूरी जानकारी हिन्दी में – दोस्तों आज हम आपके लिए इस अटकल के माध्यम से बहुत ही इंटरेस्टिंग टॉपिक लेकर आए हैं। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से बात करने वाले हैं एनपीसीआई क्या है और एनपीसीआई का फुल फॉर्म क्या है। और साथ में हम आपको एनपीसीआई के बारे में पूरी जानकारी संक्षेप में देंगे।

दोस्तों वैसे तो इंडिया में बहुत सारी संस्थाएं काम करती हैं। उनमें से हर संस्था का अलग-अलग काम होता है। उन्हीं सभी संस्थाओं में से एक सबसे महत्वपूर्ण संस्था एनपीसीआई भी है। अगर आपको नहीं मालूम है कि एनपीसीआई क्या है और एनपीसीआई क्या क्या काम करती है और एनपीसीआई का फुल फॉर्म क्या है तो आप इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें। क्योंकि हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से एनपीसीआई के रिलेटेड संपूर्ण जानकारी विस्तार से देंगे।

NPCI का अर्थ

बहुत सारे लोगों को एनपीसीआई के फुल फॉर्म के बारे में नहीं मालूम है। चलिए अब हम आपको बताते हैं कि एनपीसीआई का फुल फॉर्म क्या है, एनपीसीआई को भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (National payment corporation of India) कहते हैं।

Read More – फास्ट टैग किसे कहते हैं? एक्सिस बैंक फास्टैग रिचार्ज कैसे करें?

एनपीसीआई ( NPCI ) क्या हैं ?

एनपीसीआई भारतीय संस्था है जिसने कैशलेस की सुविधाओं में बढ़ावा दिया है। यह संस्था भारत में डिजिटल ट्रांजैक्शन को कंट्रोल करती है । हमारे स्मार्टफोन मैं ऐप के माध्यम से हम पैसों को एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर देते हैं यह सब सुविधाएं एनपीसीआई ही नियंत्रित करती हैं। जैसे गुगल पे, फ़ोन पे आदि। इसमें बैंक अकाउंट को लिंक किया जाता है।

वर्तमान में भारत की बहुत सारी बैंक एनपीसीआई को प्रमोट कर ती है। इनमे से कुछ है

  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बड़ौदा बैंक
  • एचडीएफसी बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक

2008 में NPCI को आरंभ किया गया। एनपीसीआई ने बहुत से प्रोडक्ट की लॉन्च किए जैसे rupay, भारत bill पेमेंट सिस्टम, एईपीएस, आदि कई प्रोडक्ट है।

NPCI product के बारे में कुछ विशेष जनकारी हम आपको नीचे दे रहे हैं –

Rupay card(रुपए कार्ड)

इसे एन.पी.सी.आई. ने चालू किया था, जो की एक कार्ड होता हैं। यह बैंक द्वारा ग्राहकों को debit card व credit card के रूप में दीया जाता हैं। इनके द्वारा ग्राहकों को ऑनलाइन व ऑफलाइन ट्रांजेक्शन हैं। इससे पहले वीजा कार्ड का उपयोग अधिक होता था। लेकिन अब बैंक रुपए कार्ड ही ग्राहकों को देती हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब जन धन योजना को लागू किया तो , इसमें भी रुपए कार्ड rupay card ही देते हैं।

भारत बिल पेमेंट सिस्टम (BBPS)

इसको भी एनपीसीआइ द्वारा संचालित किया गया हैं। यह महत्वपूर्ण सर्विसिंग हैं। जिसके घर पर ही बैठकर पानी, बिजली, टेलीफोन बिल व अन्य कई प्रकार के बिल मोबाईल फोन के द्वारा भर सकते हैं। यह बहुत महत्वपूर्ण सर्विस हैं क्योंकि पहले विभाग में जाकर ही बिल भरना पड़ता था। लेकिन अब इसके द्वार समय की भी बचत होती है।

यू .पी.आई. U.P.I.

यूपीआई का अर्थ-यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस है। यह एनपीसीआई की ज्यादा लोकप्रिय सर्विस हैं। इस सर्विस के द्वारा हम घर बैठकर अपने बैंक अकाउंट से किसी दूसरे बैंक अकाउंट में ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। इसकी ट्रांजैक्शन की स्पीड बहुत तेज आती है यह 3 सेकंड में ही ट्रांजैक्शन या ट्रांसपोर्ट कर देता हैं।

आधुनिक दुनिया में यूटीआई का उपयोग बड़ा है अब मोबाइल में बहुत से एप्स जिन इंस्टॉल करके यूपीआई का इस्तेमाल कर सकते हैं । जो आजकल ज्यादा पॉपुलर है वह हैं -फ़ोन पे, गूगल पे, एमजोन पे, भारत पे, भीम पे आदि हैं ।

एन.ई.टी.सी.N.E.T.C

इसका मतलब नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कनेक्शन हैं। यह सर्विस भी एनपीसीआई के द्वारा संचालित की गई है। यह सर्विस सड़क टोल प्लाजा पर यूज़ की जाती है। जब से इस सर्विस को लागू किया है तब से इसके अंतर्गत वाहनों पर फास्ट टैग स्टीकर लगाए जाते है ।

जो कि वाहन मालिक के बैंक अकाउंट से लिंक होता है, इसके कारण उसे बार-बार टोल प्लाजा पर रुकना नहीं पड़ता हैं। टोल प्लाजा पर स्किन के लिए एक यंत्र लगा होता है जो वाहन के स्टीकर को स्कैन करता है , और उसके बैंक अकाउंट से पैसे काट लेता है । इसके कारण समय की बचत होती है। इसलिए इस सर्विस की उपयोगिता होती है।

निष्कर्ष

तो मित्रों , आपने इस लेख में एन. पी. सी. आई. के बारे में जाना, हमें आशा है कि यह जानकारी आपको पसंद आई होगी,तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें अगर आपके कोई सुझाव हो तो हमें नीचे कमेंट करके बताएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *